REET Exam के पाठयक्रम को लेकर शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा का बड़ा बयान|| REET EXAM 2020 || REET LEVEL 1 AND LEVEL 2 || REET SYLLABUS 2020 - EDUCATION TAK

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner




Post Top Ad

Your Ad Spot

Monday, 10 February 2020

Jaipur
शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया कि रीट के पाठ्यक्रम को लेकर भ्रांति चल रही है, जबकि अभ्यर्थियों को पूर्व की तरह ही तैयारी करनी चाहिए।
जयपुर। राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षा (रीट) को लेकर सचिवालय में शुक्रवार को बैठक हुई। शिक्षा राज्यमंत्री गोविंद सिंह डोटासरा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में परीक्षा, पाठ्यक्रम, पात्रता और अन्य विसंगतियों को लेकर चर्चा हुई।

इस दौरान डोटासरा ने पत्रिका को बताया कि रीट के पाठ्यक्रम को लेकर भ्रांति चल रही है, जबकि अभ्यर्थियों को पूर्व की तरह ही तैयारी करनी चाहिए। इसे नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजुकेशन (एनसीटीई) की गाइडलाइन के अनुसार पहले से ही तय किया हुआ है।
रीट लेवल 1 के प्रपोज़ल पैटर्न को डाउनलोड करने के लिए इस लिंक पर जाए।

                     clickhere
 स्नातक का वेटेज कम करने पर चर्चा डोटासरा ने कहा कि पाठ्यक्रम में स्नातक का वेटेज कितना होगा, इस पर गहन अध्ययन और चर्चा की जा रही है। चूंकि कई अभ्यर्थियों की मांग है कि स्नातक का वेटेज कम किया जाए। अत: इस पर निर्णय होना बाकी है। इसी के आधार पर लेवल 2 की भी परीक्षाओं का निर्धारण होगा।
रीट लेवल 2 के नवीन प्रपोज़ल पैटर्न को डाउनलोड करने के लिए इस लिंक पर जाए।

                     clickhere
नोट:- रीट लेवल में वेटेज के मुद्दे पर अभी यक उहापोह की स्थिति है जहाँ एक विषय पेपर पर अभी कोई अंतिम फैसला नही हुआ है
 अभी इन पर विधिक और विभागों के अधिकारियों से राय ली गई है। इसके साथ ही किस वर्ग को न्यूनतम अंकों में शिथिलता दी जाए, कॉमर्स के विद्यार्थियों को पात्र करने और एमए 50 प्रतिशत के साथ ही बीएड करने वाले छात्रों को पात्र बनाने पर विमर्श हुआ। अगले हफ्ते मीटिंग में इस पर फैसला होगा।

 बैठक में स्कूल शिक्षा विभाग शासन सचिव, पंचायती राज विभाग विशिष्ट शासन सचिव, वरिष्ठ संयुक्त विधि परामर्शी, निदेशक, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड सचिव समेत कई अधिकारियों ने हिस्सा लिया।




Post Top Ad