Type Here to Get Search Results !
>

RSSB LDC भर्ती 2018 का मामला, गलत तथ्यों से ली थी फीस में छूट, अब बोर्ड कर रहा भर्ती से बाहर क्या है पूरा मामला पढ़े

जयपुर

राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा आयोजित की जा रही एलडीसी ग्रेड 2/ कनिष्ठ सहायक भर्ती 2018 में 2.50 लाख रुपए से कम आय बताकर परीक्षा शुल्क में 200 एवं 100 रुपये की छूट लेना अब कई अभ्यर्थियों पर भारी पड़ रहा है । ऐसे कई अभ्यर्थियों का दस्तावेज जांच के लिए चयन तो हो गया , लेकिन वे आय का प्रमाण पत्र नहीं दे पा रहे हैं।
दैनिक भास्कर ने स्पेशल स्टोरी के रूप में इस मामले को उठाया है...दैनिक भास्कर की स्पेशल स्टोरी को देखने के लिए इस लिंक पर जाए।

                  clickhere

ऐसे अभ्यर्थियों के चयन पर तलवार लटक गई है । बोर्ड उन्हें भी से बाहर का रास्ता दिखाने की तैयारी में है । इस भर्ती में 18,429 कैंडिडेट्स को दस्तावेज और पात्रता जांच के लिए सूचीबद्ध किया गया था । बोर्ड को अंदेशा है कि इनमें से करीब एक हजार अभ्यर्थी ऐसे हैं जिन्होंने अधिक आय होते हुए भी 2.50 लाख रुपए से कम आय बताकर परीक्षा शुल्क में छूट ली थी । बोर्ड के इस निर्णय का अभ्यर्थियों ने यह कहते हुए विरोध शुरू कर दिया है कि मानवीय भूल के चलते उनसे ऐसा हो गया ।
RSSB LDC भर्ती से जुड़ी आधिकारिक अपडेट के लिए इस लिंक पर जाए।

                   clickhere
लेकिन अब वे त्रुटि सुधार के लिए 300 रुपए के पोस्टल ऑर्डर सहित बोर्ड में आवेदन कर चुके हैं । ऐसे में उन्हें भर्ती से बाहर नहीं किया जाए । लेकिन बोर्ड मानने को तैयार नहीं है ।  टीम युवा हल्ला  के अनुसार , बोर्ड ने अगर इन अभ्यर्थियों को बाहर करने का प्रयास किया तो भी कोर्ट में अटक सकती है जिसकी वजह से बिना किसी वजह ऐसे चयनित अभ्यर्थियों को इंतजार करना पड़ता है जिनके दस्तावेजो में कोई कमी नही होती है जो अन्याय है।
यह है मामला :
एलडीसी भर्ती के लिए चयन बोर्ड ने 16 अप्रैल 2018 को विज्ञापन जारी किया था । इसमें 10 मई से 8 जून तक आवेदन करना था । सामान्य वर्ग , ओबीसी क्रीमीलेयर व एमबीसी के लिए 450 . नॉन क्रीमीलेयर ओबीसी , एमबीसी के लिए 350 और एसस्सी , एसटी व विशेष योग्यजन के लिए 250 रूपए परीक्षा शुल्क तय किया गया ।

विज्ञापन जारी होने और आवेदन प्रक्रिया शुरू होने के बीच 2 मई 2018 को सरकार ने एक नोटिफिकेशन जारी कर उन अभ्यर्थियों को शुल्क में 200 रुपए की छूट दी जिनके परिवार की वार्षिक आय 2 . 50 लाख सालाना से कम है । उन्हें एससी , एसटी के समान 250 रुपए शुल्क ही जमा कराना था

यह हुई थी गफलत : 
2 मई के नोटिफिकेशन के 8 दिन बाद 10 मई से जब आवेदन की प्रक्रिया शुरू हुई तो अभ्यर्थियों ने परिवार की सालाना आय वाले कॉलम में 2 . 50 लाख रुपए से कम आय पर टिक लगा दिया । इससे उन्हें परीक्षा में 200 रुपए की छूट मिल गई और केवल 250 रूपए ही जमा कराने पड़े ।

इनका कहना है:-
अभ्यर्थी की पात्रता तभी मानी जाती है जब उसने पूरा परीक्षा शुल्क जमा कराया हो । इन अभ्यर्थियों ने 2 . 50 लाख रुपए से अधिक आय होते हुए भी पूरा शुल्क जमा नहीं कराया । पात्रता जांच के बाद पूरा परीक्षा शुल्क जमा नहीं कराने वालों को बाहर किया जाएगा ।

कुछ मामलों में बोर्ड ने भूल सुधार के नियम बना रखे हैं । इसमें गलत जानकारी के जरिए परीक्षा शुल्क में छूट लेने वालों को कंसीडर करने का कोई नियम नहीं है । - मुकुट बिहारी जांगिड सचिव , राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड
Tags

Top Post Ad

Below Post Ad

Ads Area